देश

PM मोदी क्यों हैं दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता, NYT ने छापी लंबी-चौड़ी रिपोर्ट

नई दिल्ली
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर 8.95 करोड़ फॉलोअर्स के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेताओं में से एक हैं, लेकिन क्या आप उनकी लोकप्रियता के पीछे का कारण जानते हैं?  रिपोर्ट में मुजीब मशाल के अनुसार, उनकी लोकप्रियता एक पुराने ज़माने के रेडियो शो से जुड़ी है, जो उन्हें विशाल सोशल मीडिया तंत्र पर अहम स्थान देता है। पीएम मोदी के मासिक रेडियो शो "मन की बात" का प्रत्येक प्रसारण, जिसे आम तौर पर दिल की बातचीत के रूप में प्रस्तुत किया जाता है, राष्ट्र के उत्थान के लिए प्रसारित एक शो  है, जो स्थानीयता को राष्ट्रीयता और वैश्विक फलक से जोड़ता है। हर महीने प्रसारित होने वाला यह कार्यक्रम पीएम मोदी को हर छोटी या बड़ी सकारात्मक घटना और हर ठोस या आध्यात्मिक समाधान से जोड़ता है।

उनकी लोकप्रियता इस बात पर आधारित नहीं है कि वह दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के प्रधानमंत्री हैं और न ही विभिन्न देशों की उनकी यात्रा के कारण है, जहां वह जाते हैं, बल्कि यह भारतीय जनमानस पर उनके प्रभाव के कारण है। यह भारतीयता और पारंपरिक विरासत को बयां करते हैं।

रिपोर्ट में लिखा है कि महीने में एक बार, पीएम मोदी अपने सरकारी बंगले में बने एक स्टूडियो में जाते हैं और माइक्रोफोन के पीछे बैठकर अपना पसंदीदा रेडियो शो शुरू करते हैं। उन्होंने अब तक 100 से अधिक एपिसोड रिकॉर्ड किए हैं। वह अपने हर एपिसोड में हिंदी में "मेरे प्यारे देशवासियों" के संबोधन और अभिवादन के साथ अपने मन की बात की शुरुआत करते हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले देश में पीएम मोदी की लगभग 30 मिनट की ऑन-एयर मेजबानी ने एक तरह से उन्हें भारत की विशालता में सर्वव्यापी बना दिया है। इस कार्यक्रम में, पीएम मोदी एक पसंदीदा शिक्षक और एक सहानुभूतिशील मित्र दोनों की भूमिका में नजर आते हैं, जो अपने श्रोताओं और चयनित कॉलर्स से सीधे संवाद करते हैं।

वह स्कूल छात्रों को परीक्षाओं के दौरान तनाव को कम करने की सलाह देते हैं, यहाँ तक कि वह अपने दर्शकों को याद दिलाते हैं कि उनकी शैक्षिक पृष्ठभूमि भी सामान्य छात्र की रही है। वह गांव और कृषि जीवन की चुनौतियों के बारे में जागरूकता व्यक्त करते हुए पर्यावरण और जल संरक्षण की भी बात करते हैं। कृषि में होने वाले नूतन प्रयोगों की बात कर वह किसानों को नए और वैज्ञानिक सोच से कृषि करने के लिए भी प्रेरित करते हैं। वह खेल-खिलाड़ी, योग-ध्यान और अध्यात्म की भी बात रेडियो शो में करते हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रेडियो शो के अलावा वह डिजिटल मीडिया पर भी गहरी पकड़ रखते हैं, जहां वह अपनी सरकार की उपलब्धियों की कहानी कहने में उन्हें महारत हासिल है। इसके जरिए वह वह मुफ्त राशन से लेकर बेहतर बुनियादी ढांचे के विकास तक अपनी सरकार के लोकप्रिय कार्यक्रमों को प्रभावी ढंग से लोगों के बीच संप्रेषित कर सकते हैं और किसी भी संदेश को वायरल कर सकते हैं।लिखा है कि कोविड महामारी के दौरान भी पीएम मोदी ने नागरिकों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने के लिए जनता से सीधा संवाद किया था। उन्होंने अपने श्रोताओं और दर्शकों से कहा था, "आइए, हम एक-एक गांव का दौरा करें और लोगों से वैक्सीन के बारे में बात करें।"

 

Related Articles

Back to top button