ब्रेकिंग न्यूज़मध्यप्रदेश

PM Modi रीवा- इन्दौर वंदे भारत ट्रेन को दिखाएंगे हरी झंडी

स्कूली बच्चों से पीएम करेंगे संवाद ; Vande Bharat Train की पहली यात्रा में शामिल होंगे 350 बच्चे, पश्चिम- मध्य रेलवे ने शुरू किया चयन

मध्य प्रदेश की दूसरी और पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर मंडल की पहली वंदे भारत ट्रेन अंततः रीवा से ही चलाई जा रही है। इस Vande Bharat Train का  शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 24 अप्रैल को रीवा में करेंगे।

इसके बाद रीवा से वंदे भारत ट्रेन चलाए जाने को लेकर तमाम कयास लगाए जा रहे हैं, लेकिन अभी तक न तो शासन की ओर से अधिकारिक रूप से किसी के द्वारा यह स्वीकार किया जा रहा है कि वंदे भारत ट्रेन का संचालन रीवा से होगा और न ही प्रशासन अथवा रेल प्रशासन द्वारा ही इस बात की किसी तरह की पुष्टि की जा रही है। अब अटकलों को विराम लग गया है।

www.vandematram.in की पड़ताल में यह बात सामने आई है कि पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा बेहद गुपचुप तरीके से वंदे भारत के रीवा से शुभारंभ हेतु तैयारियों को अंजाम दिया जा रहा है। लगातार पश्चिम मध्य रेलवे के अधिकारी रीवा आकर ट्रेन संचालन तथा शुभारंभ व्यवस्था को अंतिम रूप दे रहे हैं।

रीवा रेलवे स्टेशन में स्वयं पश्चिम मध्य रेलवे के डीआरएम विवेक शील द्वारा रेलवे परिसर के अंदर और बाहर मेडिकल टीम की उपलब्धता आदि व्यवस्था दुरुस्त करवाई गई हैं। इसके साथ ही रीवा रेलवे स्टेशन परिसर में खाली पड़ी भूमि पर अतिरिक्त रास्ता बनाने का कार्य चल रहा है। अन्य तमाम तैयारियां भी जोरों पर हैं।

पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा वंदे भारत ट्रेन के शुभारंभ अवसर पर सतना तक स्कूली बच्चों और स्कूल स्टाफ के कुछ सदस्यों को भी यात्रा करने के लिए तैयार किया जा रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक तकरीबन 350 बच्चे, स्कूली स्टाफ के कुछ सदस्यों के साथ वंदे भारत ट्रेन में रीवा से सतना तक यात्रा करेंगे। रीवा शहर के चुनिंदा स्कूलों के बच्चों को यात्रा के लिए तैयार किया जा रहा है। वहीं सतना, और जबलपुर के स्कूलों के भी कुछ चुनिंदा बच्चों को वंदे भारत ट्रेन में यात्रा कराए जाने की खबर मिली है। रीवा में वन्दे भारत शुभारम्भ कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री बच्चों से संवाद भी करेंगे।

उसमें उस स्कूल के प्राचार्य द्वारा साफ तौर पर यह कहा गया है कि आगामी 24 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रीवा- इंदौर वंदे भारत ट्रेन का शुभारंभ करेंगे। पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा उस स्कूल के 30 चयनित बच्चों को एक स्कूल स्टाफ के साथ रीवा से सतना यात्रा करने का अवसर मिलेगा।

पत्र में यह भी कहा गया है कि रीवा से सतना तक वंदे भारत ट्रेन से जाने के बाद बच्चों के वापस रीवा लौटने की जिम्मेदारी रेलवे विभाग की है। इस तरह यह स्पष्ट हो गया है कि वंदे भारत ट्रेन रीवा से इंदौर तक चलाई जाएगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 24 अप्रैल को इसका शुभारंभ करेंगे।

जबलपुर शिक्षा विभाग को मिला पत्र

बताया गया है कि जबलपुर में शिक्षा विभाग के पास भी पश्चिम मध्य रेलवे का एक पत्र पहुंचा है। इस पत्र में वंदे भारत ट्रेन में यात्रा करने हेतु विद्यार्थियों का चयन प्रतियोगिता के माध्यम से करने को कहा गया है। वंदे भारत ट्रेन में सबसे पहले यात्रा करने के लिए छात्र- छात्राओं के साथ किसी प्रकार का भेदभाव न हो, इसके लिए कक्षा आठ से बारहवीं तक पढ़ने वाले छात्र छात्राओं के बीच निबंध व पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा, जिसमें सफल होने वाले छात्र-छात्राओं को यात्रा करने का मौका मिलेगा।

रूट पर सस्पेंस
सूत्रों के मुताबिक रीवा से वंदे भारत ट्रेन का संचालन जबलपुर होकर किया जाना है, लेकिन खजुराहो सांसद और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा चाहते हैं कि वंदे भारत ट्रेन का संचालन सागर होकर किया जाए। www.vandematram.in को जानकारी मिली है कि रेलवे इस मामले में अभी अंतिम निर्णय तक नहीं पहुंचा है किंतु इस बात की पूरी संभावना है कि रीवा से वंदे भारत ट्रेन का संचालन 4 दिन जबलपुर होकर किया जाएगा और 3 दिन सागर होकर किया जाएगा।

Related Articles

Back to top button