ब्रेकिंग न्यूज़विदेशव्यापार

INDIA अकेले दुनिया की तरक्की में निभाएगा 15 फीसदी की जिम्मेदारी : IMF

दुनिया की बड़ी-बड़ी Economic जैसे अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन आर्थिक संकट का सामना कर रही हैं।

New Delhi (vandematram)
दुनिया की बड़ी-बड़ी Economic जैसे अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन आर्थिक संकट का सामना कर रही हैं। वहीं एशिया की दुनिया की बड़ी-बड़ी Economic जैसे अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन आर्थिक संकट का सामना कर रही हैं। दुनिया की बड़ी-बड़ी Economic जैसे अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय यूनियन आर्थिक संकट का सामना कर रही हैं। बूम पर है। अंततराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की मैनेजिंग डायरेक्टर क्रिस्टालीना जॉर्जिवा का कहना है कि 2023 के दौरान दुनिया की आर्थिक तरक्की में अकेले भारत का योगदान 15 % होगा।

IMF ने हाल में ‘world Economics outlook रिपोर्ट-ए रॉकी रिकवरी’ publice की थी। इसमें 2023 के दौरान भारत की आर्थिक वृद्धि दर 5.9 % रहने का अनुमान जताया गया है। हालांकि ये inf के पूर्वानुमान 6.1 % से मामूली तौर पर कम है।

IMF के मुताबिक 2023 में एशिया और प्रशांत क्षेत्र के देश 4.6 % की दर से ग्रोथ करेंगे। जबकि 2022 में ये ग्रोथ रेट महज 3.8 प्रतिशत था। इतना ही नहीं दुनिया की Economic ग्रोथ में ये पूरा इलाका 70 % का योगदान देगा। वहीं भारत और चीन जैसे देश ग्लोबल ग्रोथ में आधे से ज्यादा के भागीदार होंगे।

IMF की एमडी क्रिस्टालीना ने भारत की आर्थिक प्रगति की तारीफ की है। Digital india भारत को कोविड महामारी के दौर के निचले स्तर से तेजी से ऊपर ला रहा है। वहीं सरकार का कैपिटल एक्सपेंडिचर पर निवेश देश में लगातार वृद्धि को गति दे रहा है।

क्रिस्टालीना के मुताबिक भारत आने वाले दिनों में वैश्विक अर्थव्यवस्था का ‘चमकता सूरज’ बना रहेगा। वैश्विक ग्रोथ में अकेले 15% से अधिक का हिस्सेदार होगा। इस साल भारत की Economic ग्रोथ रेट ऊंची रहेगी। जबकि मार्च में समाप्त हुए साल के दौरान इसकी ग्रोथ रेट 6.8% रहने का अनुमान है।

दुनिया की अर्थव्यवस्था पर असर डालने वाले फैक्टर्स पर नजर रखने के लिए IMF एक macroEconomics मॉडल का इस्तेमाल करता है। इसमें दुनिया की 8 बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के आंकड़ों का विश्लेषण किया जाता है। ये Economi अमेरिका, जापान, जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस, चीन, भारत और ब्राजील हैं।

Related Articles

Back to top button